5 Foam Roller Exercises to Remove Pain

5 फोम रोलर एक्सरसाइज दर्द को दूर करने के लिए

फोम रोलर का प्रयोग मुख्य रूप से माँसपेशियों में दर्द ,जोड़ो में दर्द और रीड की हड्डियों को मजबूत बनाने और सूजन कम करने के लिए  फोम रोलर का प्रयोग किया जाता है| फोम रोलर की सहायता से आप  घर बैठे ही एक्सरसाइज कर सकते है| हमें अपने शरीर को स्वस्थ्य बनाये रखने के लिए एक्सरसाइज की बहुत जरूरत होती है|

फोम रोलर के लाभ –

फोम रोलर का प्रयोग निम्नलिखित समस्यों से छुटकारा पाने में किया जाता है|

  • जोड़ो के दर्द |
  • माँसपेशियों में अकड़न और खिचांव|
  • सूजन कम करने के लिए|
  • पीठ दर्द|
  • हाथ पैर में दर्द |
  • पैर के निचले हिस्से में दर्द|

फोम रोलर एक्सरसाइज पीठ दर्द के लिए

कभी कभी पीठ के ऊपरी हिस्से में अचानक बहुत दर्द होता है, क्योकि किडनी और रीढ़ की हड्ड़ियो में फ्रैक्चर के संक्रमण के करण पीठ में अचानक दर्द होने लगता है, र्और फोम रोलर का प्रयोग करके पीठ दर्द में आराम पा सकते है| इसके लिए आप सीधे लेटे और पीठ के नीचे फोम रोलर को रखें  पैर को घुटनों तक मोड़ा ले हाथ को गर्दन के पीछे रखें अब आप हाथो के साहरे से फोम रोलर को आगे पीछे करें इसे आप सप्ताह में दो – तीन बार कर सकते है| जिससे आपका स्वास्थ अच्छा रहेगा और पीठ दर्द  से आराम मिलेगा।

फोम रोलर एक्सरसाइज पैर दर्द के लिए

पैर दर्द होने के कई करण हो सकते है, बहुत ज्यादा काम, व्यायाम,पानी की कमी और विटामिन की कमी से हमारे शरीर की हड़िया कमजोर हो जाती है, और हाथ पैर में दर्द होने लगता है| इसके लिए आप फोम रोलर को आपने दोनों पैर के नीचे रखें और पैर को सीधा रखें फोम रोलर को धीरे -धीरे घुटनों के साहरे आगे पीछे करें और इसे लगभग आप 10  मिनट तक  कर सकते है|

फोम रोलर एक्सरसाइज गर्दन दर्द के लिए

पीठ के ऊपरी हिस्से में दर्द होना एक आम बात हो गई है, ऐसा इसलिए होता है, क्योकि बहुत समय तक गाड़ी चलाने या फिर कंप्यूटर में बहुत समय तक काम करते रहने से माँसपेशियों में अचानक खिचाव के करण गर्दन में दर्द होने लगता है| इसके लिए आप गर्दन को थोड़ा नीचे कर के उसे बांए से दाये और दांये से बांए ले जाये ऐसा आप को लगभग 8-10 बार करना है, जिससे आपको गर्दन दर्द से आराम मिलेगा।

फोम रोलर एक्सरसाइज हाथ दर्द के लिए

कभी कभी काम करते समय हाथो की माँसपेशियों में अचानक दर्द होने लगता है| यह अक्सर बहुत ज्यादा भारी सामान उठाने के करण होता है| इसके लिए आपको दोनों हाथों को सीधा रखें और फिर दांये ओर करवट ले कर लेट जांए और फोम रोलर को आपने हाथों की जोड़ पर रखें और रोलिंग को धीरे -धीरे आगे पीछे करें|

फोम रोलर एक्सरसाइज जांघो को मजबूत बनाने के लिए

फोम रोलर को आपने दोनों जांघो के नीचे रख के लेट जाये और आपने दोनों हाथों को जमीन पर रखें फिर फोम रोलर को आपने घुटनों से ऊपर जांघो तक रोलिंग करें ऐसा करने से आपकी जांघो मजबूत और दर्द से भी आराम मिलेगा।

फोम रोलर एक्सरसाइज के फायदे

कुछ ऐसे भी लोग है जो फोम रोलर एक्सरसाइज के फायदे के बारे में नहीं जानते है, अब हम आपको इस आर्टिकल के मध्ध्यम से बातएंगे की इसके क्या -क्या फायदे है|

  • फोम रोलर एक्सरसाइज करने से माँसपेशियों में दर्द तथा जोड़ो के दर्द को दूर करता है|
  • फोम रोलर एक्सरसाइज  एक प्रकार से फैट बर्नर भी कहा जाता है, क्योकि इसके इस्तेमाल से पैर ,हाथ ,कमर के आसपास की चर्बी कम की जा सकती है|
  • यह एक प्रकार से ऐसा व्यायाम है, जो हमारे शरीर की हड्डियों और जोड़ो को संतुलित बनाये रखता है।

फोम रोलर एक्सरसाइज करते समय हमें निम्नलिखित सावधानियाँ रखनी चाहिए

  • जब भी आप फोम रोलर का इस्तेमाल करते है उसे सही जगह पर रखें क्योकि ये हर समय आपकी माँसपेशियों के नीचे रहता है और इससे आपके शरीर को नुकसान पहुँचा सकती हो
  • यदि आपके हाथ -पैर में किसी भी तरह की चोट लगी है तो  फोम रोलर का इस्तेमाल  ना करें ।
  • जब भी आप माँसपेशियों में  रोलिंग का इस्तेमाल करते है तो आप अपनी सांसो को बिलकुल ना रुके ।
  • जब कभी भी आप रोलिंग करते है तो जोड़ो की हड्डियों पर इसे  रोल ना करें

Author Bio:- मेरा नाम विशाल है, में khabarinhindi.com पर कई दिनों से blogging कर रहा हूँ। जो एक बहुत ही प्रसिद्ध हिंदी ब्लॉग है। जिसमे स्वास्थ और फिटनेस से संबधित जानकारी बहुत ही आसान तरीके से समझाई गई है। यह जानकारी आप के अच्छे स्वास्थ के लिए बहुत ही लाभकारी हो सकती है।

Shamsul Hoda

Shamsul Hoda is an author, digital marketing expert and content developer at Factsnfigs.com. He is also a veteran in the digital field. Shamsul Hoda brings over eight years of experience in content strategy and digital marketing analysis in the tech industry to a variety of blogs and articles including factsnfigs and unrealistictrends.com and meny more blogs.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top